300*250 ads

Breaking News

Zomato में चीनी कंपनी का निवेश! कर्मचारियों ने छोड़ी नौकरी और जलाए T-Shirts

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( coronavirus ) संकट के बीच देश में चीन ( China ) के खिलाफ भी जंग छिड़ गई है। गलवना घाटी ( Galwan Valley ) में दोनों देशों के बीच हुई हिंसक झड़प ( India-China Face Off ) में भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे। इस घटना के बाद से पूरे देश में चीन को लेकर रोष है। वहीं, केन्द्र सरकार ( Central Government ) ने भी चीन को करार जवाब देना शुरू कर दिया और 59 चीनी कंपनियों के Apps पर बैन लगा दिए हैं। वहीं, फूड डिलीवरी कंपनी Zomato के कर्मचारियो में भी चीन को लेकर रोष है। क्योंकि, जोमैटो में चीनी कंपनी का निवेश है। लिहाजा, कई कर्मचारियों ने नौकरी छोड़ दी और Zomato के टी-शर्ट भी जला दिए।

Zomato कर्मचारियों का प्रदर्शन

कोलकाता ( Kolkata ) के बेहाला में Zomato के कई कर्मचारियों ( Zomato Employee ) ने प्रदर्शन किए। कुछ प्रदर्शनकारियों का दावा है कि Zomato में चीनी कंपनी का निवेश है, इसलिए उन्होंने नौकरी छोड़ दी। इतना ही नहीं प्रदर्शन के दौरान कर्मचारियों ने टी-शर्ट ( T-Shirt ) भी जला दिए। प्रदर्शनकारियों ने लोगों से अपील की लोग Zomato से खाना ऑर्डर न करे। हालांकि, कंपनी ने इन कर्मचारियों के खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराई है।

'Zomato में चीनी कंपनी का निवेश'

रिपोर्ट में कहा गया है कि चीनी कंपनी अलीबाबा ( Alibaba ) से जुड़ी एंट फाइनेंशियल ने 2018 में Zomato में निवेश किया था। कंपनी ने 14.7 प्रतिशत की हिस्सेदारी खरीदी थी। एंट फाइनेंशियल से Zomato ने हाल ही में 15 करोड़ रुपये जुटाए हैं। प्रदर्शन में शामिल एक व्यक्ति का कहना था कि चीनी कंपनियां हमारे देश में लाभ कमा रही है और हमारे सैनिकों पर हमला कर रही हैं। वे हमारी जमीन पर कब्जा करना चाहते हैं। हम ऐसा नहीं होने दे सकते।

13 प्रतिशत कर्मचारियों की zomato ने की थी छटनी

इससे पहले Zomato ने कोविड-19 महामारी ( COVID-19 ) का हवाला देते हुए 13 प्रतिशत कर्मचारियों की छटनी कर ( Zomato Employee Fired ) दी थी। यानी 520 कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया था। हालांकि, इस छटनी को लेकर जोमैटो की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई थी। वहीं, अब इस प्रदर्शन कोलेकर जोमैटो एक बार फिर सुर्खियों में है।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal
Read The Rest:patrika...

No comments