300*250 ads

Breaking News

फेयर एंड लवली से Fair शब्द हटने से Suhana Khan ने जताई खुशी, सोशल मीडिया पर कही ये बात

नई दिल्ली: अमेरिका में जॉर्ज फ्लॉयड (George Floyd) की मौत के बाद से ही पूरी दुनिया में #BlackLivesMatter मूवमेंट की शूरुआत हुई। इसकी आंच भारत में भी देखने को मिली। लोगों ने फेयरनेस क्रीम (Fairness Cream) पर सवाल उठाने शुरू कर दिए। जिसके बाद अब हिंदुस्तान यूनिलीवर ने अपने ब्राण्ड 'फेयर एंड लवली' (Fair & Lovely) क्रीम से 'फेयर' शब्द हटाने का फैसला लिया है। जिसके बाद लोगों ने इस फैसले पर खुशी जाहिर की। वहीं, बॉलीवुड के किंग शाहरुख खान (Shah Rukh Khan) की बेटी सुहाना (Suhana Khan) ने भी इस मामले पर सोशल मीडिया पर अपनी बात कही है।

सुहाना ने इस खबर की जानकारी अपनी इंस्टा (Suhana Khan Instagram) स्टोरी से देते हुए लिखा, 'हिंदुस्तान यूनिलीवर ने यह घोषणा की कि वो अपनी स्किन लाइनिंग क्रीम 'फेयर एंड लवली' की रीब्रैंडिंग करेंगे और इसमें से फेयर शब्द को हटा देंगे। कंपनी ने यह वादा भी किया है कि वो यह सजेशन भी हटा देंगे कि कामयाबी किसी तरह से स्किन टोन से जुड़ी हुई है।'

suhana_khan_instagram.jpg

बात करें सुहाना के पिता शाहरुख खान की तो वो खुद 'फेयर एंड हैंडसम' के ब्रांड एंबेसडर हैं। लेकिन एक इंटरव्यू में उन्होंने अपनी बेटी के स्किन टोन के लिए कहा था, 'मैं ईमानदारी से कहूंगा। मेरी बेटी सांवली है, लेकिन वह दुनिया की सबसे सुंदर लड़की है।'

आपको बता दें कि फेयर शब्द हटाने का फैसला रंग भेदभाव को खत्म करने के लिए दुनियाभर में चल रहे विरोध के चलते लिया गया है। अमेरिका में अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड (Killing of George Floyd) की पुलिस कस्टडी में मौत का कई देशों में विरोध किया गया। साथ ही #BlackLivesMatter मूवमेंट चल रहा है। जिसे लगभग हर किसी का समर्थन मिल रहा है। यूनिलिवर ब्यूटी एंड पर्सनल केयर डिवीजन के अध्यक्ष सनी जैन ने कहा कि हम इस बात को समझते हैं कि फेयर, व्हाइट और लाइट जैसे शब्द सुंदरता की एकतरफा परिभाषा को जाहिर करते हैं, जो कि सही नहीं है। हम इसे सुधारना चाहते हैं। कंपनी ने कहा कि अब वह अपने विज्ञापनों में हर रंग की महिलाओं को शामिल करेंगे। बता दें कि भारत के अलावा यह क्रीम बांग्लादेश, इंडोनेशिया, थाईलैंड, पाकिस्तान और एशिया के कई देशों में बिकती है।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal
Read The Rest:patrika...

No comments